जय श्री कृष्णः.श्री कृष्ण शरणं मम.श्री कृष्ण शरणं मम.चिन्ता सन्तान हन्तारो यत्पादांबुज रेणवः। स्वीयानां तान्निजार्यान प्रणमामि मुहुर्मुहुः ॥ यदनुग्रहतो जन्तुः सर्व दुःखतिगो भवेत । तमहं सर्वदा वंदे श्री मद वल्लभ नन्दनम॥ जय श्री कृष्णः

शनिवार, 21 अगस्त 2010

उसे ही संभाले जो काम आए,नहीं तो बेच या फेंक दो

घर या ऑफिस के अन्दर अनावश्यक वस्तुएं संभाल कर नहीं रखनी चाहिए‌‍‍‍.क्योंकि यह सब उर्जा को अंदर रोक कर नकारात्मक उर्जा पैदा करती है. जिस तरह अगर पानी किसी जगह रुक जाए तो उसमें से दुर्गन्ध आनी शुरू हो जाति है, उसी तरह अगर ची भी इन वस्तुओं में रुक जाती है तो मृतक ची का निर्माण करती है जो कि हमारें सौभाग्य के लिए अच्छी नहीं होती. कुछ लोगों के घर में अनावश्यक चीजें संभाल कर रखने की आदत होती है. वह ना तो इन वस्तुओं का इस्तेमाल करते है और ना ही इन्हें फेंकते है. इसका सबसे अच्छा उपाय है कि इन चीजों को हम काम में लगायें, बेच दे, फेंक दे या किसी को उपहार दे दें. जिससे काम आ सके. अगर, आपके घर में अनावश्यक चीजों का संग्रह है तो आपके और आपके पारिवारिक सदस्यों की प्रगति में यह सामान अनावश्यक बाधा उत्पन्न कर रहा है. इन अनावश्यक चीजों का संग्रह करने से मनुष्य पिछड़ जाता है.इसलिए हमे इन बेकार चीजों से घर नहीं भरना चाहिए. इसी तरह पुरानी यादें भी हमारे मष्तिष्क को भरती है. आप निरर्थक भौतिक एवं मानसिक वस्तुओं के संग्रह से छुटकारा पा लीजिए फिर देखिये कि आप अपने आपको कितना बंधनमुक्त, चिंतारहित तथा प्रसन्नचित पाते है.

छत पर रखी पुरानी बोतलें या पुराने पाइप या टूटी फूटी खाट, फोल्डिंग पलंग, टूटा सोफा या कुर्सी घर में खुशी आने को रोकता है. तथा कोई भी शुभ कार्य होगा तो क्लेश सबसे पहले अपनी उपस्थिति दर्ज कराने को उत्सुक रहेगा.

यदि घर में टूटा फूटा मिट्टी का घड़ा छत या आँगन में रखा है और अलमारी भी जर्जर अवस्था या टूटी हुई है तो समझ लीजिए कि घर में आने वाले धन को कोई और रास्ता मिल गया है.

यदि घर या ऑफिस में गमलें या फूलदान, गुलदस्ते, सूखे पौधे, गीली लकड़ी या जंग लगा बेकार का लोहा रखा है तो घर या ऑफिस की उन्नति में बाधा कारक होता है. क्योंकि इससे धन के डूबने की आशंका अधिक रहती है.

पुराने वस्त्र जो कि इस उम्मीद में रखे है कि शायद पुराना फैशन वापिस आ जाय या फिर आपको उपहार में मिले हो लेकिन आपको पसंद ना हों या आपको फिट ना आते हों ऐसे वस्त्रों को किसी गरीब आदि को दे दें नहीं तो भाई-बहन के सम्बन्ध खराब होने लगते है.

यदि घर में पुरानी पत्रिकाएं जो कि पांच वर्ष से ना खुली या पड़ी हो तो उसे किसी वाचनालय अर्थात लाइब्रेरी में दान कर दे या बेच दे इसके कारण बच्चों की शिक्षा में बाधा आती है.

घर में टूटे हुये खिलोने या शो पीस आदि तो भूल कर भी ना रखे इसका दोष परिवार में बिखराव अलगाव पैदा करता है.

१० दस साल पुराने रिकॉर्ड या बही खाते जो कि बंद है और किसी जगह पर फेंक दिए गए हो तो उन्हें तत्काल निकाल दे. इसके दोष के कारण घर की बहन, बुआ और बेटी को परेशानी का सामना करना पड़ सकता है.

घर में ग्रीटिंग कार्ड और शादी के पांच साल पुराने कार्ड भी ना रखे घर के किसी भी सदस्य के विवाह में बाधा उत्पन्न हो सकती है.

यदि घर में पुराने ऑडियो तथा वीडियो कैसेट्स जो कि खराब अवस्था में हो, इलेक्ट्रिकल सामान जैसे कि मिक्सी, रेडियो, टीवी इत्यादि जो कि प्रयोग में नहीं आ रहे हो या खराब हो इन सबको घर या ऑफिस से निकाल दें. इसके दोष के कारण मित्र भी शत्रु बनते है और रिश्तेदारी में तनाव की स्थिति बनने लगती है.

घर में बेकार जूते, गर्म कपड़े, बेकार फटी रजाईयां तथा पुराना फर्नीचर जो कि कई जगह से टूटा हो बिलकुल भी ना रखे इसके कारण घर या ऑफिस से चोरी की घटनाएं होने लगती है.

घर या ऑफिस में रखी खराब घड़ियां और पुराने बेकार सैल या बेट्रियां रखने से बरकत खत्म होती है.
ऐसी बहुत सी चीजें है जो कि हमारा व हमारे परिवार की उन्नति का मार्ग रोकती है चीज कोई भी हो यदि काम की है तो रखो नहीं तो बाहर करने में ही भलाई है. इसलिए मै फिर इसी बात को पुनः कहता हूं कि......

उसे ही संभाले जो काम आए,नहीं तो बेच या फेंकदों.................






कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

कृपया अपने प्रश्न / comments नीचे दिए गए लिंक को क्लिक कर के लिखें

LinkWithin

Related Posts with Thumbnails

लिखिए अपनी भाषा में