जय श्री कृष्णः.श्री कृष्ण शरणं मम.श्री कृष्ण शरणं मम.चिन्ता सन्तान हन्तारो यत्पादांबुज रेणवः। स्वीयानां तान्निजार्यान प्रणमामि मुहुर्मुहुः ॥ यदनुग्रहतो जन्तुः सर्व दुःखतिगो भवेत । तमहं सर्वदा वंदे श्री मद वल्लभ नन्दनम॥ जय श्री कृष्णः

गुरुवार, 9 सितंबर 2010

आपका भाग्य अंक ७ और भविष्य..

आप सोच रहें होंगे, कोई अंक अच्छे या बुरे भी होंगे. नहीं, आप विश्वास कीजिये, कोई भी अंक अच्छा या बुरा नहीं होता . जिस प्रकार कोई भी ग्रह शुभ या अशुभ नहीं होता. हर व्यक्ति के जीवन पर उनका भिन्न भिन्न प्रभाव रहता है.उसी प्रकार अंको का भी हमारे जीवन शैली पर है. अंको की एक सुनिश्चित गति है, स्पष्ट लक्षण है, स्पष्ट अर्थ है. एक क्रम व योजना है. उसे भली प्रकार समझ लें तो मानव जीवन को समझना सरल हो जाता है.

भाग्यांक के लिए जन्म तारीख, जन्म मास्, जन्म वर्ष की आवश्यकता रहती है. सवाल यह है कि भाग्यांक कैसे बनाया जाये ? उदाहरण:- माना किसी की जन्म तिथि २७-०६-१९६२ है तो तारीख को जोड़ा २+७=९, मास् का योग किया तो ०+६= ६, जन्म वर्ष को जोड़ा तो १+९+६+२= १८, अब इन तीनों का जोड़ करेंगे ९+६+१८= ३३ आया इसका फिर एक अंक में परिवर्तन करने के लिए जोड़ेंगे तो ३+३= ६ अंक हमारे सामने आ रहा है बस यही भाग्यांक का अंक है अर्थात उपरोक्त जन्म तिथि के अनुसार हम कह सकते है कि भाग्यांक ६ है. अब भाग्यांक के फल पर भी विचार करते है.

आपका भाग्य अंक ७ है तो:-- अंक ७ नेप्च्यून और केतु ग्रह का परिचायक है. यह चन्द्रमा के समान प्रभाव देता है. अंक २ चन्द्र से संबंध माना जाता है. इसलिए अंक ७ के लोगों के लिए अंक २ सहायक सिद्ध होता है. इनकी अच्छी निभती है. आपका व्यक्तित्व हजारों लोगों में अलग पहचाना जाता है. परिवर्तन आपके जीवन का हिस्सा है.आप नये स्थानों कि खोज, सामुन्द्रिक यात्राएं, हवाई यात्राएं एवं ललित कलाओं में गहरी रूचि रखते है. आप हर एक इंसान की मन की थाह को पा लेते है. हर समस्या के आने से पूर्व आपको शानदार स्वप्न आता है. अर्थात स्वप्न के द्वारा पूर्वाभास होने लगता है. कल्पना शक्ति की प्रखरता के कारण व्यापार को शानदार तरीके से करते है. क्षुद्र मनोवृति से दूर छोटी छोटी बातों पर ध्यान नहीं देते है. उच्चस्तरीय जीवन यापन करते है. आप अपने आप में बैचेन व उग्र रहते है. आप रुढ़ीवादिता से नफरत करते है. विदेश सम्बन्धी कार्य में आप अधिक धन कमाते है. और इच्छा पूर्ण करते है. पुस्तके पड़ने में रूचि रखते है. विश्व की अनेक बातों का ज्ञान रखते है. भौतिक चीजों की कम परवाह करते है. मौलिक विचारों में स्थिर रहते है. आप आत्म विश्वासी, आस्थावान एवं स्वकार्य पक्ष होते है. अपने गुणों के कारण जीवन को निरन्तर आगे बडाते है.

व्यापार की तारीखें:--  १, २, ७, ४, तारीखें, सोमवार, रविवार, शुभ है. यदि इन तारीखों में यह दिन आए तो व्यापार के लिए अत्यंत शुभ फल दायी होता है.

व्यवसाय:-- विदेशी व्यापार, आयात-निर्यात, जहाज के मालिक, कप्तान, जलीय पदार्थ का व्यवसाय, तैराकी, ट्रांसमीटर, रेडियो, औषधि कार्य, रबड़ टायर,युव्से ट्रांसलेटर, भूमिगत खनिज पदार्थ आदि सफलता प्रदान करते है.

प्रेम व मित्रता के अंक:-- १, २, ४, ७, शुभ, इनके साथ प्रेम मित्रता व व्यवसाय शुभ रहेगा.

शुभ दिशा:-- दक्षिण-पूर्व और उत्तर-पूर्व शुभ है.

सर्वश्रेष्ट वर्ष:-- १, २, ४, ७, १०, ११, १३, १६, १९, २०, २२, २५, ३९, ३४, २८, ३१, ४३, ४७, ५२, ५६, ५५, ६४, ६७, ७४, ७३, ७६ वां वर्ष शुभ व श्रेष्ठ है.

रंग:-- सफेद विशेष अनुकूल, हल्का लाल रंग, हल्का पीला शुभ रंग है.

....................जारी................शेष भाग.......


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

कृपया अपने प्रश्न / comments नीचे दिए गए लिंक को क्लिक कर के लिखें

LinkWithin

Related Posts with Thumbnails

लिखिए अपनी भाषा में