जय श्री कृष्णः.श्री कृष्ण शरणं मम.श्री कृष्ण शरणं मम.चिन्ता सन्तान हन्तारो यत्पादांबुज रेणवः। स्वीयानां तान्निजार्यान प्रणमामि मुहुर्मुहुः ॥ यदनुग्रहतो जन्तुः सर्व दुःखतिगो भवेत । तमहं सर्वदा वंदे श्री मद वल्लभ नन्दनम॥ जय श्री कृष्णः

रविवार, 19 सितंबर 2010

आपका भाग्य और नीलम, शनि रत्न..


हमारे जीवन में नौ रत्नों का बहुत महत्व है. इनको धारण करने से हम अपने भाग्य के रास्ते की बाधा को काफी हद तक दूर करने में सक्षम हो सकते है.हमारी जन्म राशि और लग्न, अपने अन्दर सभी तरह के गुण-दोषों को लिए हुये है, जैसे आयु से सम्बंधित, स्वास्थ्य से इसका गहरा संबंध है.धन का यह प्रतिनिधित्व करती है. यश प्राप्ति में सहायक व काम धंधे की परिचायक, हमारा आचार-व्यवहार तथा विचारों का आदान प्रदान, इन सभी व्यापक गुणों की दृष्टि में रखते हुये हमें राशि(लग्न) से सम्बंधित रत्न धारण करना चाहिए राशि से सम्बंधित रत्न को मुख्य रत्न कहते है. कुछ रत्न ऐसे है, जो हमारे कष्टों का निवारण करते है. और कुछ रत्न ऐसे है, जो हमे कष्ट पंहुचाते है. यह जान लेना अति आवश्यक है कि आप जिस रत्न को धारण करने जा रहे है, कंहीं वह आपके लिए कष्टकारी तो नहीं? हम आपको सभी बारह राशियों(लग्न) के रत्नों के बारे में जानकारी देंगे कि कौन व्यक्ति अपनी राशि व लग्न के अनुसार कौन कौन से रत्न धारण कर सकता है.

आज हम नीलम, रत्न के बारे में जानकारी प्राप्त करेंगे......

मेष राशि :-- इस राशि के लोग शनि की दशा में नीलम रत्न धारण कर सकते है. इस राशि के लिए शनि लाभदायक हो सकता है. अपनी दशा में.. इसका रत्न धारण करने से लाभ में वृद्धि होगी. राज्य से सम्बंधित लोगो से मेलजोल लाभकारी सिद्ध होगा. भवन तथा जमीन का लाभ देगा. वायु सम्बंधित रोगों से बचायेगा.टांगो को बल देगा.

वृष राशि :-- इस राशि वालो को शनि रत्न नीलम शुभ फलदायक होगा.यह रत्न धारण करने से धन मान और भाग्य की वृद्धि होगी.छोटे भाई की आयु में वृद्धि करेगा. पिता की आयु और स्वास्थ्य में वृद्धि करेगा. आपके स्नायुओं को मजबूत करेगा. राज्य से कृपा प्रदान होगी. उच्चाधिकारियों से लाभ प्रदान करवाएगा. इस राशि वाले इसे हीरा के साथ भी धारण कर सकते है अति लाभदायक सिद्ध होगा.

मिथुन राशि :-- इस राशि के लोग भी नीलम रत्न धारण कर सकते है. वो भी शनि की दशा में.. धन और भाग्य में वृद्धि करेगा. तथा धर्म में रूचि उत्पन्न करेगा.

कर्क राशि :- इस राशि वालो के लिए शनि अशुभ ग्रह है. इसका रत्न कदापि धारण नहीं करना चाहिए. आयु को क्षीण करेगा. धन के क्षेत्र में कष्ट तथा हानि देगा. साझेदारी के कार्यों में दुखदायी होगा.पति पत्नी में अलगाव पैदा करेगा. पति या पत्नी के लिए कष्टकारी भी सिद्ध होगा.

सिंह राशि :-- इस राशि के लोगो को नीलम रत्न नहीं धारण करना चाहिए. क्योंकि इस धारण करने से शत्रु सिर उठाएँगे. धन की कमी रहेगी. पति या पत्नी की आयु के लिए कष्टकारी होगा. पेट तथा अंतड़ियों से सम्बंधित रोग उत्पन्न होंगे.

कन्या राशि :-- इस राशि वालो को नीलम रत्न धारण करने के लिए ज्योतिषी से परामर्श लेना अति आवश्यक है. यदि नीलम रत्न धारण करेंगे तो स्वास्थ्य की हानि करेगा. और बच्चो से वैमनस्यता रहेगी.शत्रु हावी होने लगते है. पेट से सम्बंधित रोग देगा.

तुला राशि :-- इस राशि वालो के लिए शनि राजयोगकारक है. नीलम रत्न धारण करने से धन, पदवी,सुख सभी में वृद्धि करेगा. निम्न स्तर के लोगो से प्यार प्राप्त होगा. आयु तथा स्वास्थ्य में वृद्धि करेगा. माता को धनादि की प्राप्ति होगी. और पिता का स्वास्थ्य व धन ठीक रखेगा.

वृश्चिक राशि :-- इस राशि के लोग शनि की दशा में परामर्श के द्वारा नीलम रत्न धारण कर सकते है. परन्तु नीलम धन की विशेष वृद्धि नहीं करेगा. लेकिन भूमि में वृद्धि होगी. मित्रों से लाभ हो सकता है. छोटी बहनों और भाइयों को सुख तथा धन प्राप्त हो सकता है.

धनु राशि :-- इस राशि के लोगो को नीलम रत्न धारण करना शुभकर नहीं होगा. बहन-भाइयों की आयु को क्षीण करेगा. तथा शत्रु अधिक पैदा होंगे.

मकर राशि :-- इस राशि के लोगो के लिए नीलम रत्न धारण करना अत्यंत शुभ होगा.इनके स्वास्थ्य, धन, आयु, विद्या में वृद्धि करेगा. वाणी में सुधार होगा. टांगो के रोगों का शमन होगा. वायु से उत्पन्न रोगों को दूर परेगा.

कुम्भ राशि :-- इस राशि के लोग नीलम धारण कर लाभ उठा सकते है. धन में वृद्धि करेगा. आंखों के दोषों का शमन करेगा. व्यय को कम करेगा. स्नायुओं को बल देगा. टांगो तथा पांवों को भी बल देगा. पुत्र की आयु में वृद्धि करेगा. पुत्र का भाग्य बढ़ाएगा.

मीन राशि :-- इस राशि के लोगो को नीलम रत्न नहीं धारण करना चाहिए. आंखों के रोगों को बढ़ाएगा. धन लाभ में कठिनाइयां उत्पन्न करेगा. स्वास्थ्य में भी हानि करेगा...


30 टिप्‍पणियां:

  1. बेनामी4/11/2011 4:26 pm

    GOOD INFORMATION BUT NOT SUFFICIENT

    उत्तर देंहटाएं
  2. बेनामी जी, प्रत्येक जन्मकुंडली के लग्न और राशि अनुसार ग्रह किस अवस्था में शुभ या अशुभ होते है उन सब बातों का गहनता से विचार करने पर ही रत्न को धारण करने चाहिए, इसे मजाक में ना पहने. इस विषय को गंभीरता से लेना चाहिए. नमस्कार.

    उत्तर देंहटाएं
  3. बेनामी10/15/2011 10:21 am

    Name: Lalitkumar, DOB: 25/09/1975,
    Time of birth: 00:10 AM, Place of birth: Jalgaon (Maharashtra), Email id: lalitbonde@gmail.com Please tell me whether I can wear Gomed and Neelam together or not ?

    उत्तर देंहटाएं
  4. बेनामी जी, आप कभी भी नीलम और गोमेद रत्न एक साथ नहीं धारण कर सकते है....

    आप ही क्यों...मणि रत्नम शास्त्र अनुसार कोई भी नीलम और गोमेद रत्न एक साथ नहीं पहन सकता,,, क्योंकि इससे शनि+राहू की युति बन जायेगी...जिससे जीवन उथल पुथल होने लगता है...

    उत्तर देंहटाएं
  5. बेनामी10/24/2011 11:03 am

    neelam kis hath ke kon ce ungali main
    pehene

    उत्तर देंहटाएं
  6. बेनामी10/24/2011 11:06 am

    neelam kis ungali main pehene

    उत्तर देंहटाएं
  7. नीलम रत्न हमेशा "मध्यमा" उंगली में पहना जाता है सीधे हाथ में...

    उत्तर देंहटाएं
  8. बेनामी10/29/2011 7:19 pm

    MERA DATE OF BIRTH 05/11/1969 HAI OR LAGNA ME SANI HAI,KAYA HAME NEELAM DHARAN KARNA CHAIYE........

    उत्तर देंहटाएं
  9. बेनामी जी, आपने अपना जन्म समय और स्थान नही लिखा है कृपया पूरी जानकारी लिखें....धन्यवाद.

    उत्तर देंहटाएं
  10. jiska janm tarikh nahi malum ho to usko kaisew malum padega ki kun sa ratn dharan kare

    उत्तर देंहटाएं
  11. mera nam rakesh nand kishor gupta hai ye nam bachpan se hai jiske anusar mera tula rashi banta hai

    उत्तर देंहटाएं
  12. राकेश जी, आपके अनुसार आपकी राशि "तुला" है..जन्म तिथि आदि का विवरण आपके पास नही है, तो आप निराश ना हो. अपने निकट विद्वान ज्योतिषी जी के पास जाइए और अपनी समस्या के बारे में उन्हें बताए तो जो भी रत्न आपको समस्या के अनुसार लाभदायक होगा तो उसका सबसे पहले उपरत्न ही धारण करें, उससे यदि लाभ मिलना प्राप्त हो जाए तभी आप रत्न धारण करेंगे तो आपकी सभी समस्याओं का समाधान हो सकता है

    उत्तर देंहटाएं
  13. बेनामी1/29/2012 6:55 pm

    MERA NAAM NARENDER HAI
    DATE OF BIRTH 17.06.1971
    TIME 5.25 AM
    MUJHE KAUN KAUN SE RATAN PAHANNE CHAHIYE

    उत्तर देंहटाएं
  14. नरेंद्र जी आपका जन्म स्थान कहां है, लिखें.

    उत्तर देंहटाएं
  15. Pandit ji namaskar,
    my name is Rahul Sharma, birth place buhana, jhunjhunu district, state rajasthan. Birth time 2.35 pm, DOB 17 july 1984. please let me know should i wear neelam or not if yes then please tel me how to wear means i am asking about procedure (pooja path, mantar etc.)if its possible to provide your contact number it will be far better for me.
    Thanks

    उत्तर देंहटाएं
  16. pandit ji pranaam mera naam santosh hai aur mera janm 1986 k navratri jisme ki durga baithate hai us din chirimiri chahtish gadh mei hua to mei kon sa ratna pahenu jisse kimera samay sudhar jaye

    उत्तर देंहटाएं
  17. sharma ji pranam ram mishra dob° 25 03 1980 21:30 hardoi HAMARE LIYE NEELAM YA NEELI KAISA KYA PANNA K SATH PAHNA °JA SAKTA HAI YA NAHI

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. वैसे तो शुभ है नीलम लेकिन अभी नही पहन सकते है शनि बाधक स्थान में है केवल पन्ना ही धारण करें

      हटाएं
  18. sharma ji is samay ketu ki mahadasa hai to antardasa kis ki chal rahi hai ati kripa hogi dob 25'03 1980 21:30 hardoi up

    उत्तर देंहटाएं
  19. Namaskar pandit ji mera naam sanjay kumar hai date of birth 07/05/1985 hai time of birth 4.00pm place of birth near by shimla(kinnor).
    Pandit ji mere job nhe lag rahe. Mai apne bhavishy k bare mai janna chata hu. Aur mughe kaunsa ratan dharan karna chahiye.

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. आपकी जन्म कुंडली अनुसार दिसंबर 2013 से जॉब का योग आरम्भ हो रहा हैं अच्छी जॉब मिलेगी तथा आप सूर्यदेव को प्रतिदिन अर्घ्य दें तथा श्री हनुमान चालीसा के पांच पाठ रोज शाम के समय अवश्य करें जल्दी ही लाभ मिलेगा आप शनि का छल्ला सबसे बड़ी उंगली में पहने आपकी शनि की साडेसाती भी जन्म राशि के अनुसार चल रही है

      हटाएं
  20. Namaskar pandit ji mera naam sanjay kumar hai date of birth 07/05/1985 hai time of birth 4.00pm place of birth near by shimla(kinnor).
    Pandit ji mere job nhe lag rahe. Mai apne bhavishy k bare mai janna chata hu. Aur mughe kaunsa ratan dharan karna chahiye.

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. आपकी जन्म कुंडली अनुसार दिसंबर 2013 से जॉब का योग आरम्भ हो रहा हैं अच्छी जॉब मिलेगी तथा आप सूर्यदेव को प्रतिदिन अर्घ्य दें तथा श्री हनुमान चालीसा के पांच पाठ रोज शाम के समय अवश्य करें जल्दी ही लाभ मिलेगा आप शनि का छल्ला सबसे बड़ी उंगली में पहने आपकी शनि की साडेसाती भी जन्म राशि के अनुसार चल रही है

      हटाएं
  21. Namaskar pandit ji mera naam sanjay kumar hai date of birth 07/05/1985 hai time of birth 4.00pm place of birth near by shimla(kinnor).
    Pandit ji mere job nhe lag rahe. Mai apne bhavishy k bare mai janna chata hu. Aur mughe kaunsa ratan dharan karna chahiye.

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. आपकी जन्म कुंडली अनुसार दिसंबर 2013 से जॉब का योग आरम्भ हो रहा हैं अच्छी जॉब मिलेगी तथा आप सूर्यदेव को प्रतिदिन अर्घ्य दें तथा श्री हनुमान चालीसा के पांच पाठ रोज शाम के समय अवश्य करें जल्दी ही लाभ मिलेगा आप शनि का छल्ला सबसे बड़ी उंगली में पहने आपकी शनि की साडेसाती भी जन्म राशि के अनुसार चल रही है

      हटाएं
  22. Namaskar pandit ji. Mai apne bade bhai k bare mai jankare chata hu. Unka naam sanjay kumar hai. Dob 07/05/1985 hai. Birth time shaam k 04.00 bje. Janam sthan shimla k pass kinnor mai. Ji unke kahe naukri nhe lag rahe.
    pandit ji jara unke bhavishy k bare mai bata de aur unhe kaunsa ratan (gemstone) dharan karna chahiye. Upay bata de. My email id is arya928@gmail.com

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. आपकी जन्म कुंडली अनुसार दिसंबर 2013 से जॉब का योग आरम्भ हो रहा हैं अच्छी जॉब मिलेगी तथा आप सूर्यदेव को प्रतिदिन अर्घ्य दें तथा श्री हनुमान चालीसा के पांच पाठ रोज शाम के समय अवश्य करें जल्दी ही लाभ मिलेगा आप शनि का छल्ला सबसे बड़ी उंगली में पहने आपकी शनि की साडेसाती भी जन्म राशि के अनुसार चल रही है

      हटाएं
  23. पंडित जी नमस्कार..मेरा नाम अजय कुमार मौर्या है...मेरा जन्म sthan..लखनऊ उत्तर प्रदेश है और मेरी जन्म तीती १८.१०.1983 और समय ०५.१५ सुबह का है..मुझे कौन सा रतन पहनना चाइये जिससे मेरे सरे काम ठीक हो जय और मुझे सफलता मिले और तरक्की. क्यूंकि मेरे कोई काम नही बनते..जीस काम में हाथ डालता हु वो काम में नुकसान होता है और सफलता नही मिलती...पैसे बहुत डूब चूका है मेरा...घर में शांति नही रहती...में विदेश जाकर काम करना चाहता हु...एक बार अप्लाई किया था पर वीसा नही मिला...क्या में विदेश जा सकता हु...किर्पया मेरी समस्या का समाधान कीजिए...आपका बहुत बहुत आभारी रहूँगा..

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. पंडित जी नमस्कार...मुझे आपका उत्तर प्राप्त नही हुआ है...किर्पया करके बताइये में उत्तर कहा देख सकता हु ब्लॉग में...ईमेल में भी कुछ नही आया ...किर्पया बताइये..धनयवाद

      हटाएं
    2. http://anilastrologer.blogspot.in/2010/09/blog-post_17.html?showComment=1414409498102#c6050296763752273712 इसी उपाय को करे इससे सभी लाभ होंगे तथा साड़ी रुकावट दूर होनी शुरू हो जायेंगी

      हटाएं

कृपया अपने प्रश्न / comments नीचे दिए गए लिंक को क्लिक कर के लिखें

LinkWithin

Related Posts with Thumbnails

लिखिए अपनी भाषा में