जय श्री कृष्णः.श्री कृष्ण शरणं मम.श्री कृष्ण शरणं मम.चिन्ता सन्तान हन्तारो यत्पादांबुज रेणवः। स्वीयानां तान्निजार्यान प्रणमामि मुहुर्मुहुः ॥ यदनुग्रहतो जन्तुः सर्व दुःखतिगो भवेत । तमहं सर्वदा वंदे श्री मद वल्लभ नन्दनम॥ जय श्री कृष्णः

शनिवार, 23 अक्तूबर 2010

घर में भगवान सूर्य का चमत्कारी प्रभाव..



भगवान सूर्य का हमारे जीवन में महत्वपूर्ण स्थान है. सूर्य से हमें यांग ऊर्जा प्राप्त होती है जो कि सौभाग्य के लिए अच्छी मानी जाती है. यह ऊर्जा हमारे स्वास्थ्य के लिए भी अच्छी मानी जाती है. हमें घर के खिड़की-दरवाजे सूर्य की रौशनी के लिए खोल देने चाहिए.

प्रातःकाल में सूर्य को जल देने से लाभ मिलता है. इससे यश मान की वृद्धि होती है तथा राज्य लाभ व् पुत्र लाभ और इससे हमारी वित्तीय स्थिति भी मजबूत होने लगती है. सूर्य की रौशनी में पानी को चार्ज करकर पीने से अनेको बीमारियों से छुटकारा मिलता है.

घर के पूर्व क्षेत्र में सूर्य का चित्र लगाना भी लाभदायक माना जाता है चित्र की जगह सूर्य की प्रतिमा भी लगाई जा सकती है. इससे मान सम्मान, यश तथा कीर्ति में वृद्धि होती है.

यदि संतान कोई भी पुत्र या पुत्री माता पिता की आज्ञा का पालन नहीं कर रही है या घर की मर्यादा भंग होने का डर है तो किसी भी शुक्ल पक्ष के प्रथम रविवार को संतान के कमरे में या जहां वह सोती है उस जगह पूर्व की दीवार पर उगते सूर्य का चित्र लगाने से संतान धीरे धीरे नियंत्रण में होने लगती है.

यदि कोई सरकारी बाधा या किसी अधिकारी द्वारा पीड़ित हो रहे है तो ताम्बे का सूर्य बना कर किसी भी रविवार को अपने बैडरूम की पूर्वी दीवार पर टांग दे और प्रत्येक मंगलवार उस पर किसी भी समय अनामिका उंगली से श्री हनुमान जी के सिंदूर द्वारा गोल तिलक लगा दे. ऐसा करने से समस्त बाधाए दूर होंगी और समाज में प्रतिष्ठा बढ़ेगी.

यदि घर या व्यवसायिक स्थल पर ईशान कोण, उत्तर, पूर्व दिशा किसी कारण से बंद है या इधर से सूर्य देव की रौशनी प्रवेश नहीं करती है तो यह भी एक भयंकर वास्तु दोष माना जाता है इसे भी दूर करने के लिए भगवान सूर्य आपकी सहायता करने के लिए उपस्थित है. ईशान कोण, उत्तर, पूर्व दिशा की दीवार में सूर्य का चित्र जो की लाल रंग का हो उगता हुआ प्रतीत होना चाहिए ऐसा चित्र किसी कन्या के हाथ से लगवाए और एक तख्त लकड़ी का छोटा या बड़ा कोई भी हो वहां पर रख दे इससे घर के क्लेश, पारिवारिक अशांति आदि सब कष्ट कुछ ही समय में दूर होते है.

इसके साथ ही प्रतिदिन भगवान सूर्य को जल अर्पण करें व् घर से निकलते समय भी सूर्य की ओर मुख कर नमस्कार करे. तो दिन भर किसी भी वाद विवाद का सामना नहीं करना पडेगा और शत्रु भी सामने आकार शांत हो जाते है.

शेष फिर........



कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

कृपया अपने प्रश्न / comments नीचे दिए गए लिंक को क्लिक कर के लिखें

LinkWithin

Related Posts with Thumbnails

लिखिए अपनी भाषा में