जय श्री कृष्णः.श्री कृष्ण शरणं मम.श्री कृष्ण शरणं मम.चिन्ता सन्तान हन्तारो यत्पादांबुज रेणवः। स्वीयानां तान्निजार्यान प्रणमामि मुहुर्मुहुः ॥ यदनुग्रहतो जन्तुः सर्व दुःखतिगो भवेत । तमहं सर्वदा वंदे श्री मद वल्लभ नन्दनम॥ जय श्री कृष्णः

गुरुवार, 24 फ़रवरी 2011

जन्म-राशि और व्यक्तित्व (धनु-राशि)..





धनु राशि का स्वामी वृहस्पतिदेव है. वृहस्पति देवगुरु सूचक है. धनु राशि का तत्व अग्नि, द्विस्वभाव अर्द्धजल राशि है. यह पूर्व दिशा का स्वामी है. यह राशि, सतोगुणी व पुरुष राशि है.


इस राशि के लोग पूरे कद के सुगठित देह, कद लम्बा व मस्तक काफी विस्तृत होता है. इनकी भोंहे घनी होती है. नाक लंबी होती है. कुल मिलाकर सुन्दर व्यक्तित्व के होते है. गोल चेहरा, गाल फुले हुए होते है. व स्वस्थ एवं बलवान होते है.

धनु राशि के व्यक्ति आक्रामक स्वभाव के साहसी और परिश्रमी होते है. यह महत्वाकांक्षी एवं उग्र भी हो जाते है. यह कठिन से कठिन समस्याओं को अपने सब्र और साहस और परिश्रम से सुलझाते है. आत्मविश्वास अधिक होता है. अग्नि तत्व राशि होने से स्फूर्ति और जोश अधिक होता है. द्विस्वभाव होने के कारण जल्द निर्णय नहीं ले पाते है. काफी सोच विचार करते है. कभी कभी अभिमान का भी प्रदर्शन करते है. यह उच्च विद्या प्राप्त करते है. यात्रा के शौकीन होते है. गुरु इन्हें उदार हृदयता, आत्मविश्वास, सत्यवादिता और अध्यात्मिक प्रगति देता है.


धनु राशि वाले उन्नति की अधिक इच्छा रखने वाले होते है. व कठोर अनुशासन प्रिय होते है. इस गुण के कारण इनके अधिक शत्रु भी बन जाते है.यह धार्मिक प्रवृति के लोग भी होते है. निष्ठापूर्वक धार्मिक क्रिया कलाप पूरा करते है. और समय समय पर तीर्थ यात्रा भी करते है.यह दानशील, उदार भी होने लगते है. तथा आनंदपूर्वक जीवन व्यतीत करते है.

धनु राशि वाले निस्वार्थी, मेधावी तथा अनेक भाषाओं के ज्ञाता, साहित्य में रूचि रखने वाले होते है. यह व्यक्ति बैंकर, प्रोफ़ेसर, राजनीतिज्ञ, अच्छे सलाहकार, वकील, अध्यापक, व उच्चकोटि के व्यापारी और उपदेशक होते है.

राजनीति, क़ानून, गणित या ज्योतिष विषयों में भी रूचि रखते है.ये धैर्ययुक्त प्रवृति से कार्य क्षेत्र में उन्नति करते है.ये लोग भाषण देते समय पूरी ताकत लगा देते है. यदि यह लोग सैनिक बने तो युद्ध में पीठ नहीं दिखा सकते है. पुलिस, सेना और अच्छे जासूस भी धनु राशि वाले बन सकते है.

यौवनकाल व वैवाहिक जीवन में इस राशि वाले व्यक्ति अधिक संघर्ष करते है.

इनको स्वास्थ्य के प्रति जागरूक रहना चाहिए. इस राशि वालों को फेफड़ों तथा वायु संबंधी रोगों से सावधानी रखनी चाहिए.

यदि इस राशि पर पापी ग्रह, शनि, मंगल, राहू, केतु का प्रभाव हो तो यह धोखेबाज और विश्वासघाती होते है. अपने गुणों का बखान बढ़ चढ कर करते है. अपने आपको महापुरुष होने का ढोंग भी करने लगते है. वचन देकर कभी भी पूरा नहीं करते है.

आपका भाग्य उदय:- 32 वर्ष के बाद सम्भव होता है. 36, 42, 45, 54, 63, 72, एवं 81वां वर्ष प्रभावशाली व भाग्यवर्धक वर्ष होते है.

मित्र राशि:- मेष व सिंह,

शत्रु राशि:- कर्क, वृश्चिक और मीन,

अनुकूल रत्न:- पुखराज,

शुभ दिन:- वृहस्पतिवार,

अनुकूल देवता:- भगवान विष्णु जी,

अनुकूल अंक:- 3,

अनुकूल तारीखें:- 3, 12, 30,

व्यक्तित्व:- गुणग्राही प्रवृति, अध्ययनप्रियता,

सकारात्मक तथ्य:- बुद्धिवादी, तर्क, लक्ष्य प्राप्ति की और सचेष्ट,

नकारात्मक तथ्य:- अतिधूर्तता, अव्यव्हारिता,

नाम अक्षर:- ये, यो, भा, भी, भू, ध, फ, ढ, भे,

धनु राशि वालों का सौभाग्यशाली रत्न पुखराज है. जिसे पहन कर ये अपने जीवन को तथा अपने वैवाहिक जीवन को सुख समृद्धि वाला बना सकने में सक्षम हो सकते है.

शुभमस्तु !!

62 टिप्‍पणियां:

  1. meri raashi bhi dhanu hai...acha laga padhke...thanks..

    उत्तर देंहटाएं
  2. meri naam raashi tula hai aur janm raashi dhanu kisko sahi maan kar chaloon

    उत्तर देंहटाएं
  3. रवि कुमार जी, आप जन्म राशि को ही प्राथमिकता दिया करें, साथ ही अपने जन्म लग्न की राशि को भी राशि मानकर विचार करेंगे तो आप ज्योतिष के सत्य के करीब होंगे. धन्यवाद...

    उत्तर देंहटाएं
  4. उपरोक्त फल जन्मकुंडली के अनुसार और ग्रहों के शुभ- अशुभ होने से बदल सकता है किसी विद्वान ज्योतिषी से सलाह अनिवार्य होती है

    उत्तर देंहटाएं
  5. Dhanu Raashi ke baare me padh kar bahut hi achaa laga. Gyan ki vridhi hui. Pandit ji meri raashi dhanu aur lagan raashi Tula hai. To mujhe Tula raashi ka bhi adhyan karna chahiye?

    Thanks & Regards,
    Manjul Bhardwaj

    उत्तर देंहटाएं
  6. मंजुल भारद्वाज जी, आप तुला राशिभी देख सकते है....

    उत्तर देंहटाएं
  7. Pandit ji Namaskar.

    Pandit ji mere janm ki details is prakar hai:
    Birth Time: 12:50 p.m.
    Birth Date: 23/July/1983.
    Birth Place: Delhi

    Panditji krpya meri in samasya ka hal ki jiye:
    1)Kya mai mangli hoo?
    2)Meri naukri nahi lagi hai. Mai bahut pareshan hoo. Meri naukri kab tak lage gi.
    3)Pandit ji ye bhi bata dijiye ki meri shaadi kab tak ho jayegi.

    Panditji Dhanyavaad.

    उत्तर देंहटाएं
  8. Panditji Namaskar,
    Bahut Bahut Dhanyavaad aapne meri shanka door ki. Kripya meri aur jo samasyaye hai unka bhi samadhan kare.

    Panditji Dhanyavaad.

    उत्तर देंहटाएं
  9. बेनामी10/06/2011 9:21 pm

    pandit ji namashkar
    mare betay ka janam 04/10/2011 ko hua ha iski rashi dhanu hai time 06:40 am hai iskay bhvisay kaysa rehega

    उत्तर देंहटाएं
  10. Adarniya Pandit ji
    Namashkar

    Name - Bhimsain Sharma
    date of birth - 01-03-1963
    Elder son DOB = 25-05-1995 time 10-55am
    younger son DOB=06-07-1995 time 4-55pm

    kripya inka bhavashya bhaye aur mera bhi.

    Namaskar

    उत्तर देंहटाएं
  11. बेनामी11/22/2011 3:39 pm

    NAME - MOHAMMAD (MUSLIM)TIME- 7.35 THANDLA DIST JABUA M.P.

    उत्तर देंहटाएं
  12. बेनामी11/22/2011 3:42 pm

    MOHAMMAD - PLEASE KONSA RATAN PAHNNA CAHEHYE?

    उत्तर देंहटाएं
  13. बेनामी11/22/2011 3:49 pm

    NAMEE-MOHAMMAD (MUSLIM) 19-4-1979 TIME 7.35AM PELACE THANDLA DIST JABUA M.P. PLEASE TELL ME KONSA RATAN PAHNANA CAHEYE

    उत्तर देंहटाएं
  14. मोहम्मद जी...आप सवा सात रत्ती का "पुखराज" नग सोने की अंगूठी में तर्जनी उंगली (Index - Finger) में वृहस्पतिवार प्रातः धारण करें....और आपको इस समय राहू की महादशा भी चल रही है इसलिए रोज पक्षियों को अनाज डाले. अपने कमरे में मोर के पंख का गुलदस्ता भी रखें तो लाभ होगा....

    उत्तर देंहटाएं
  15. भीमसेन शर्मा जी आप अपना टाइम और बच्चो का जन्म स्थान आदि पूरा विवरण लिखें...हमेशा..जन्म तारीख, जन्म स्थान, जन्म समय (सुबह या शाम/रात ) का पूरा विवरण लिखें साथ ही अपना प्रश्न भी लिखना चाहिए...

    उत्तर देंहटाएं
  16. Pandit ji Namaskar,
    Kripya kar ke mere prashano ke uttar dijiye.

    Manjul Bhardwaj

    उत्तर देंहटाएं
  17. पँ.जी नमस्कार
    DATE OF BIRTH-2.11.1981
    TIME-8:20 AM
    कुछ परेशान चल रहा हूँ उपाय बतायेँ

    उत्तर देंहटाएं
  18. Er.Manjul Bhardwaj ji...

    आपकी जन्मकुंडली के अनुसार आप बिलकुल भी मांगलिक नहीं है...हां आपके भाग्य स्थान पर मंगल + राहू स्थित है उसी कारण से आपका भाग्य साथ नही दे रहा है, जीवन में विभिन्न प्रकार की बाधाओं का सामना करना पड़ेगा. नौकरी अगस्त 2012 के लगभग प्रतीत हो रही है, पहली जॉब किसी भी कारण वश या असंतुष्टि की वजह से छूटने का भी योग है....

    उत्तर देंहटाएं
  19. askdhiraj ji.. आप कृपया अपना जन्म स्थान का विवरण अवश्य लिखें...धन्यवाद

    उत्तर देंहटाएं
  20. बेनामी12/11/2011 4:25 am

    मैं धनु राशी का हूं .पुखराज और मूंगा पहनना चाहता हूं .कृपया आप मुझे मार्गदर्सन दे की मैं कौन दिन और कौन अन्गुलिमे वोह रत्न पहनू ?

    उत्तर देंहटाएं
  21. बेनामी12/11/2011 9:19 pm

    उपरका प्रश्न मेरा है .साथमे कौन से धातुके साथ कितने रतिके रत्न किस समयमे धारण करना उत्तम रहता है ?सहयोग के लिए धन्येबाद.

    उत्तर देंहटाएं
  22. बेनामी जी....आप अपना प्रसिद्द नाम बताओ या अपनी जन्मतिथि का विवरण भेजे कि धनु राशि आपकी किस प्रकार से है....

    उत्तर देंहटाएं
  23. बेनामी12/20/2011 12:13 am

    मेरा प्रसिद्ध नाम ढाका प्रसाद हैं . जन्म तिथि १९६७/५/२७ सुबह्का करीब ४ बजे हैं

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. ढाका प्रसाद जी अपना जन्म स्थान और प्रश्न अवश्य लिखें

      हटाएं
  24. Pandit jee pranam
    mera dob-06.08.1979 hai plese mera sahi rashi & kuch sahi slah de

    उत्तर देंहटाएं
  25. Dob 06.10.1978 place - matia dist-jamui state-bihar 8am

    उत्तर देंहटाएं
  26. NAME : KAMAL PANTH

    DOB : 23 JULY 1986

    TIME : 11: 45 AM

    PLACE : MUZAFFARNAGAR (u.P) INDIA

    PLEASE TELL ME WHEN WILL I GET GOVT. JOB

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. 11 फरवरी 2012 से योग आरम्भ हो चुका है जो मई 2013 तक है कोशिश करो सफलता मिलेगी भगवान शिव तथा श्री हनुमान जी की उपासना आपके लिए शुभ है

      हटाएं
  27. बेनामी4/08/2012 12:34 pm

    मेरा प्रसिद्ध नाम ढाका प्रसाद है,मेरा जन्म १९६७/५/२७ के दिन सुबह करीब ४ बजे नेपाल के दैलेख (28.838885, 81.७०७७२६ ) मैं हुवा था .पंडितजी आप मुझे कृपया मार्ग दरसन दे की मैं कौन सा रत्न किस धातु के साथ कौन से बक्त मैं कहाँ पहनू ?मैं नया काम सुरु कर रहा हूँ उसमे मेरा भविष्य कैसा हैं ?

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. आप राहू का जाप और पूजा करवाए तथा माणिक्य और पुखराज धारण करे तो सुन्दर भविष्य का मार्ग प्रशस्त होगा

      हटाएं
  28. उत्तर
    1. हरिद्वार आदि तीर्थ स्थलों में किसी भी प्रतिष्ठित पूजा सामग्री वाली दूकान से आप प्राप्त कर सकते है

      हटाएं
  29. बेनामी5/20/2012 11:06 am

    Sir,
    Kindly reply if Buddh(astt) in 8th house of mesh rashi can I wear Emerland (Panna) ?

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. कृपा अपना जन्म विवरण बताए तभी समाधान हो सकेगा

      हटाएं
  30. मेरा नाम सचिन अशोकराव कुमावत है । 1/8/1982 मेरी जन्म तारिख है। मै किस क्षेत्र मे काम /व्यपार करु।

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. आपके प्रश्न में जन्म समय और जन्म स्थान का अभाव है कृपया पूर्ण विवरण लिखें

      हटाएं
  31. बेनामी6/19/2012 10:50 am

    dhanywaad padhake achcha laga....
    jaani

    उत्तर देंहटाएं
  32. sir pranam,meri dob-07.02.1986time-16.47 apne vabishya ke bare me janachati hu.meri saadisuda life kesi rahegi.

    उत्तर देंहटाएं
  33. Maharaj ji ke charno me koti koti pranam !
    Maharaj jee, Mera
    D O B- 28 nov.1992 ko 2:00 pm

    mera exam 18 Feb. Se hai.. Result ka kaisa yog ban raha hai.

    उत्तर देंहटाएं
  34. मेरा नाम योगेश शर्मा है मेरा प्रश्न ये है की मै जो भी कार्य करता हु उसमे सफलता नहीं मिलता लोग पैसा मुझसे लेकर वापस नहीं करते हर व्यक्ति धोकेबाज निकलता है मेरा जन्म तारिक 29/09/1977 है कृपया मार्ग दर्शन करे !

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. http://www.anilastrologer.blogspot.in/2010/09/blog-post_10.html

      और

      http://www.anilastrologer.blogspot.in/2010/10/blog-post_12.html

      और

      http://www.anilastrologer.blogspot.in/2010/09/blog-post_12.html

      इसका अध्ययन करें आपको उत्तर मिल जाएगा

      हटाएं
  35. GURU JI NAMASKAR,
    MERA NAAM AMIT SRIVASTAVA HAI MERA PICHLA POST GALAT HO GAYA HAI, MERA DOB HAI 18/MAY/1979 TIME - 10:50 A.M PLACE GORAKHPUR (u.p) MERI ARTHIK STHITI YEAR 2009 SE BHAUT HI KHARAB HAI, 2009 ME JOB BHI CHALI GAYI, TAB SE BAHOT SE VYAPAAR SURU KIYA LEKIN KAHIN KOI SAFALTA NAHI MILI, BAHUT HI NIRASHAO BHARA JIVAN HO GAYA HAI, KRIPYA KARKE UCHIT MARGDARSHAN KARE BADI KRIPA HOGI.
    DHANYAVAD, CHARANSPARSHA.......

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. आपकी जन्म कुण्डली के अनुसार तो आपको बिजनेस नही करना चाहिए आप जॉब ही कर सकते है या कोई शिक्षण संस्थान खोल सकते है इसके आलावा कमीशन एजेंट के रूप में भी कार्य करें तो लाभ होगा तथा किसी पार्टनरशिप में बिलकुल ना करें तो हानि का योग है ..शनि + राहू की युति आपकी कुंडली में धन भाव में है अतः आर्थिक समस्या का कारण यही है उपाय के लिए आप प्रतिदिन सूर्यास्त के बाद श्री हनुमान चालीसा + श्री हनुमानाष्टक जी के 9 - 9 पाठ सरसों के तेल का मिटटी का दीपक जलाकर करें तथा सामने कोई भी मीठी वस्तु भोग के लिए रखे पाठ के बाद प्रशाद लें यह 40 दिन लगातार करें घर का कोई भी सदस्य कर सकता है ...पीले रंग के चौकोर कपडें में एक चम्मच भर कच्चे चावल बांधकर हमेशा अपनी जेब में रखें ...ऐसा करने से कुछ दिनों में ही भाग्य की बृद्धि होगी ...लाभ होगा

      हटाएं

कृपया अपने प्रश्न / comments नीचे दिए गए लिंक को क्लिक कर के लिखें

LinkWithin

Related Posts with Thumbnails

लिखिए अपनी भाषा में