जय श्री कृष्णः.श्री कृष्ण शरणं मम.श्री कृष्ण शरणं मम.चिन्ता सन्तान हन्तारो यत्पादांबुज रेणवः। स्वीयानां तान्निजार्यान प्रणमामि मुहुर्मुहुः ॥ यदनुग्रहतो जन्तुः सर्व दुःखतिगो भवेत । तमहं सर्वदा वंदे श्री मद वल्लभ नन्दनम॥ जय श्री कृष्णः

शनिवार, 24 मार्च 2012

स्वप्न और उनका फल (भाग – 3)



स्वप्न मनुष्य के लिए बड़े ही आकर्षक लुभावने और रहस्यमय होते है. डरावने और बुरे स्वप्न जहां उसे भयभीत करते है. वहीं दिलचस्प, मनोहारी और अच्छे स्वप्न उसे आत्मविभोर कर देते है.

 रात्री में सुप्त अवस्था में देखे गए स्वप्नों के स्वप्न जाल में घिरा वह सारा दिन एक अजीब सी खुशी का अनुभव करता है.एक अजीब सी ऊर्जा उसके भीतर प्रवाहित होती रहती है. मनुष्य स्वभाव ही ऐसा है, जो बुरे स्वप्न के फल को भी जानना चाहता है.और अच्छे स्वप्न के फल को भी जानने के लिए उत्सुक रहता है. 

आखिर स्वप्न क्या है, जो सदियों से मनुष्य को अपने शुभ अशुभ संकेतों द्वारा सचेत करता रहा है. असल में स्वप्न व्यक्ति के व्यक्तित्व का एक ऐसा भाग्य सूचक है. 

जो वह सब कुछ उसको निन्द्रावस्था में बता जाता है. जो उसके जीवन में शुभ अशुभ घटने वाला होता है. ऐसी सूक्ष्म और प्रामाणिक जानकारी मनुष्य को किसी भी पद्धति से नहीं मिल सकती है.

कुछ स्वप्न बड़े ही विचित्र और आश्चर्यजनक होते है. व्यक्ति उन्हें देख कर अवाक रह जाता है. कि वह स्वप्न में कैसे आसमान में उड़ रहा था. कुछ स्वप्न ऐसे भी होते है. 

जो भविष्य में घटने वाली शुभ अशुभ घटनाओं का बोध कराते है. और कुछ स्वप्न बिलकुल ही मानव जीवन की सच्चाइयो से जुड़े होते है.


आप अगर रात के प्रथम पहर में कोई स्वप्न देखते है तो उस स्वप्न का शुभ या अशुभ फल आपको साल भर में मिलने की संभावना रहती है. 

रात के दूसरे पहर में आप कोई स्वप्न देखते है.उसका शुभ या अशुभ फल मिलने का समय आठ महीने का होता है. 

रात के तीसरे पहर में आप कोई स्वप्न देखते है तो तीन महीने में उसका शुभ अशुभ फल मिलता है. 

रात के चौथे पहर के स्वप्न के फल प्राप्ति का समय एक माह होता है. और जो स्वप्न सुबह भोर काल में देखे जाते है उसका फल शीघ्र ही आपको मिल जाता है. 

दिन निकलने के बाद देखे जाने वाले स्वप्नों का फल आधे माह के भीतर ही मिल जाते है. जीवन में बहुत प्रकार के स्वप्न दिखाई देते है और विभिन्न विषयों पर स्वप्न दृश्यमान होते है


 उन सभी चयन करना असंभव है फिर भी अधिकतर स्वप्न का फल बताने का प्रयास किया जा रहा है जो कि शब्दों के क्रमवार से लिखने का प्रयास कर रहा हूँ.....

इस लेख से पूर्व भो दो भाग प्रकाशित हो चुके है. जीवन में स्वप्न और उनका फल... और स्वप्न और उनका फल (भाग – 2) इससे पहले के शब्दों द्वारा स्वप्न की सूचि के लिए अवश्य देखें...

**ट**
टंकी खाली देखना शुभ लक्षण
टंकी भरी देखना अशुभ घटना का संकेत
टाई सफेद देखना अशुभ
टाई रंगीन देखना शुभ
टेलेफोन करना मित्रो की संख्या में वृद्धि
टोकरी खाली देखना शुभ लक्षण
टोकरी भरी देखना अशुभ घटना का संकेत
टोपी उतारना मान सम्मान बढे
टोपी सिर पर रखना अपमान हो
**ठ**
ठण्ड में ठिठुरना सुख मिले
**ड**
डंडा देखना दुश्मन से सावधान रहे
डफली बजाना घर में उत्सव की सूचना
डाक खाना देखना बुरा समाचार मिले
डाकिया देखना शुभ सूचना मिले
डॉक्टर देखना निराशा मिले
डाकू देखना धन वृद्धि हो
**त**
तरबूज देखना धन लाभ
तराजू देखना कार्य निष्पक्ष पूर्ण हो
तबला बजाना जीवन सुखपूर्वक गुजरे
तकिया देखना मान सम्मान बढे
तलवार देखना शत्रु पर विजय
तपस्वी देखना -मन शांत हो
तला पकवान खाना शुभ समाचार मिले
तलाक देना धन वृद्धि हो
तमाचा मारना -शत्रु पर विजय
तराजू में तुलना भयंकर बीमारी हो
तवा खाली देखना अशुभ लक्षण
तवे पर रोटी सेकना संपत्ति बढे
तहखाना देखना या उसमे प्रवेश करना तीर्थ यात्रा पर जाने का संकेत
ताम्बा देखना सरकार से लाभ मिले
तालाब में तैरना स्वस्थ्य लाभ
ताला देखना -चलते काम में रूकावट
ताली देखना बिगडे काम बनेगे
तांगा देखना सुख मिले, सवारी का लाभ हो
ताबीज बांधना काम में हानि हो
ताबीज़ देखना शुभ समय का आगमन
ताश देखना मित्र अथवा पडोसी से लडाई हो
तारा देखना अशुभ
तितली देखना विवाह हो या प्रेमिका मिले
तितली उड़ कर दूर जाना दांपत्य जीवन में क्लेश हो
तिल देखना कारोबार में लाभ
तिराहा देखना लडाई झगडा हो
त्रिशूल देखना अच्छा मार्ग दर्शन मिले
त्रिमूर्ति देखना सरकारी नौकरी मिले
तितली पकड़ना नई संतान हो
तिजोरी बंद करना धन वृद्धि हो
तिजोरी टूटती देखना कारोबार में बढोतरी
तिलक करना व्यापार बढे
तूफान देखना या उसमे फँसना संकट से छुटकारा मिले
तेल या तेली देखना समस्या बढे
तोलना महंगाई बढे
तोप देखना -शत्रु पर विजय
तोता देखना ख़ुशी मिले
तोंद बढ़ी देखना पेट में परेशानी हो
तोलिया देखना स्वस्थ्य लाभ हो
**थ**
थप्पर खाना कार्य में सफलता
थप्पर मारना झगडे में फँसना
थक जाना कार्य में सफलता मिले
थर थर कंपना -मान सम्मान बढे
थाली भरी देखना अशुभ
थाली खाली देखना सफलता मिले
थूकना मान सम्मान बढे
थैली भरी देखना जमीन जायदाद में वृद्धि
थैली खाली देखना जमीन जायदाद में झगडा हो
**द**
दरवाजा बंद देखना चिंता बढे
दही देखना -धन लाभ हो
दलिया खाना या देखना स्वस्थ्य कुछ समय के लिए ख़राब हो
दरार देखना घर में फूट
दलदल देखना काम में आलस्य हो
दरवाजा खोलना नया कार्य शुरू हो
दरवाजा गिरना अशुभ संकेत
दक्षिणा लेना या देना व्यापार में घाटा
दमकल चलाना धन वृद्धि हो
दर्पण देखना मानसिक अशांति
दस्ताना पहनना शुभ समाचार
दहेज़ लेना या देना चोरी की सम्भावना
दरजी को काम करते देखना कोर्ट से छुटकारा
दवा खाना या खिलाना अच्छा मित्र मिले
दवा गिरना बीमारी दूर हो
दांत टूटना शुभ
दांत में दर्द देखना -नया कार्य शुरू हो
दाडी देखना मानसिक परेशानी हो
दादा या दादी देखना जो मृत हो मान सम्मान बढे
दान लेना धन वृद्धि हो
दान देना धन हानि हो
दाह क्रिया देखना सोचा हुआ कार्य बनने के संकेत
दातुन करना -कष्ट मिटे
दाना डालना पक्षियो को व्यापार में लाभ हो
दाग देखना चोरी हो
दामाद देखना -पुत्री को कष्ट हो
दाल कपड़ो पर गिरना -शुभ लक्षण
दाल पीना कार्य में रूकावट
दाढ़ी सफेद देखना काम में रूकावट
दाढ़ी काली देखना धन वृद्धि हो
दियासिलाई जलाना दुश्मनी बढे
दीपक बुझा देना नया कार्य शुरू हो
दीपक जलाना अशुभ समाचार मिले
दीवाली देखना व्यापार में घाटा हो
दीपक देखना मान सम्मान बढे
दुल्हन देखना सुख मिले
दुकान करना मान सम्मान बढे
दुकान बेचना मानहानि हो
दुकान खरीदना धन का लाभ होना
दुकान बंद होना कष्टों में वृद्धि हो
दुपट्टा देखना स्वस्थ्य में सुधार हों
दूल्हा /दुल्हन बनना मानहानि हों
दूल्हा /दुल्हन बारात सहित देखना -बीमारी आये
दूरबीन देखना मान सम्मान में हानि हों
दूध देखना आर्थिक लाभ मिले
दुकान पर बैठना प्रतिष्ट बढे,धन लाभ हों
देवता से मंत्र प्राप्त होना नए कार्य में सफलता
देवी देवता देखना सुख संपत्ति की वृद्धि होना
दोना देखना धन संपत्ति प्राप्त होना
दोमुहा सांप देखना दुर्घटना हों, मित्र द्वारा विश्वासघात मिले
दौड़ना कार्य में असफलता हों
देवी देवता देखना कृष्ण प्रेम संबंधो में वृद्धि
देवी देवता देखना राम सफलता मिले
देवी देवता देखना शिव मानसिक शांति बढे
देवी देवता देखना विष्णु सफलता मिले
देवी देवता देखना ब्रह्मा अच्छा समय आने वाला है
देवी देवता देखना हनुमान -शत्रु का नाश हो
देवी देवता देखना दुर्गा रोग दूर हो
देवी देवता देखना सीता पहले कष्ट मिले फिर समृधि हो
देवी देवता देखना राधा शारीरिक सुख मिले
देवी देवता देखना लक्ष्मी धन धन्य की प्राप्ति हो
देवी देवता देखना सरस्वती -भविष्य सुखद हो
देवी देवता देखना पार्वती सफलता मिले
देवी देवता देखना नारद -दूर से शुभ समाचार मिले
**ध**
धमाका सुनना कष्ट बढे
धतूरा खाना संकट से बचना
धनिया हरा देखना यात्रा पर जाना पढ़े
धनुष देखना सभी कर्मो में सफलता मिले
धब्बे देखना शुभ संकेत
धरोहर लाना या देखना व्यापार में हानि हों
धार्मिक आयोजना देखना शुभ संकेत
धागा देखना कार्य में वृद्धि हों
धुरी देखना मान सम्मान में वृद्धि हों
धुआ देखना कष्ट बढे , परेशानी में फंसना पढ़े
धुंध देखना शुभ समाचार मिले
धुन सुनना परेशानी बढे
धूमधाम देखना परेशानी बढे
धूल देखना यात्रा हों
धोबी देखना काम में सफलता मिले
धोती देखना यात्रा पर जाना पड़े

शेष अगले भाग में....

शुभमस्तु !!


2 टिप्‍पणियां:

कृपया अपने प्रश्न / comments नीचे दिए गए लिंक को क्लिक कर के लिखें

LinkWithin

Related Posts with Thumbnails

लिखिए अपनी भाषा में