जय श्री कृष्णः.श्री कृष्ण शरणं मम.श्री कृष्ण शरणं मम.चिन्ता सन्तान हन्तारो यत्पादांबुज रेणवः। स्वीयानां तान्निजार्यान प्रणमामि मुहुर्मुहुः ॥ यदनुग्रहतो जन्तुः सर्व दुःखतिगो भवेत । तमहं सर्वदा वंदे श्री मद वल्लभ नन्दनम॥ जय श्री कृष्णः

शनिवार, 2 फ़रवरी 2013

वास्तु अनुसार घर के पर्दों का रंग चयन करें....




घर के इंटीरियर में परदों की विशेष भूमिका है। अलग-अलग रंग के परदे घर को और भी ज्यादा खूबसरत बनाने में विशेष महत्व है। घर में सही रंग के परदे लगाकर आप अपने घर के वातावरण को शांतिपूर्ण बनाया जा सकता है।

साथ ही अनुकूल रंग के परदे लगाने से सौभाग्य में वृद्धि होती है साथ ही प्रतिकूल परिस्थितियां अनुकूल होने लगाती है।

परदे हमेशा दो पर्तो वाले लगाएं।



पूर्व दिशा का कमरा हो तो हरे रंग के परदे ठीक रहेंगे।

पूर्वी कोने में यदि कमरा हो तो हल्के पीले या ओरेंज रंग के परदे लगाएं।

पश्चिम दिशा में यदि परदें लगाना हो तो सफेद रंग के परदे लगाएं।

उत्तर दिशा के कमरे में नीले रंग के परदे लगाएं।

दक्षिण दिशा के कोने का कमरा हो तो लाल रंग के परदे उपयुक्त रहेंगे।


शुभमस्तु !!


2 टिप्‍पणियां:

  1. नमस्ते पंडितजी ,
    नाम - अंजू राजपूत
    जन्म तारीख - ०६/०८/१९८५
    ठिकाण - अथणी- कर्नाटक
    समय - सुबह ६ बजे
    मुझे अपने शादी के बारे में पूछना है.

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. आपकी जन्म कुंडली अनुसार नवम्बर 2015 से आपके विवाह का योग आरम्भ हो रहा है जल्दी ही विवाह होगा, चिंता ना करें

      हटाएं

कृपया अपने प्रश्न / comments नीचे दिए गए लिंक को क्लिक कर के लिखें

LinkWithin

Related Posts with Thumbnails

लिखिए अपनी भाषा में