जय श्री कृष्णः.श्री कृष्ण शरणं मम.श्री कृष्ण शरणं मम.चिन्ता सन्तान हन्तारो यत्पादांबुज रेणवः। स्वीयानां तान्निजार्यान प्रणमामि मुहुर्मुहुः ॥ यदनुग्रहतो जन्तुः सर्व दुःखतिगो भवेत । तमहं सर्वदा वंदे श्री मद वल्लभ नन्दनम॥ जय श्री कृष्णः

शुक्रवार, 29 मार्च 2013

राहू - काल का विशेष ध्यान रखें......


आपने अनुभव किया होगा कि कई बार कोई काम करने की कोशिश करने पर बिना बाधा के काम सफलतापूर्वक पूरा हो जाता है। जबकि कुछ समय ऐसा होता है जब कोई काम शुरू किया जाए तो आसान दिखने वाला काम भी उलझने लगता है।


ज्योतिषशास्त्र के अनुसार यह सब समय का प्रभाव होता है। पुराणों के अनुसार 24 घंटे में कुछ समय सभी दोषों से मुक्त रहता है जिसे अभिजित मुहूर्त के नाम से जाना जाता है। यह मुहूर्त मध्याह्न से लगभग आधा घंटा पहले और आधा घंटा बाद तक होता है। 




लंबे समय तक विवाह के लिए शुभ मुहूर्त नहीं मिलने पर अभिजित मुहूर्त में विवाह भी किया जा सकता है। इस अवधि में कोई शुभ तिथि और मुहूर्त देखने की जरूरत नहीं पड़ती है। इस समय को भगवान विष्णु के सुदर्शन चक्र के समान सभी अशुभ प्रभाव को दूर करने वाला बताया गया है। 

जबकि हर दिन डेढ़ घंटे का समय ऐसा होता है जब न तो कोई शुभ काम शुरू करना चाहिए.... 

और न इस दौरान धन का लेन-देन करना चाहिए। 

माना जाता है कि इस समय शुरू किये गये कार्य में बाधाएं आती हैं। 

कार्य का शुभ परिणाम प्राप्त नहीं होता है। 

इस अशुभ समय को पंचांग राहुकाल कहता है। 

प्रतिदिन राहुकाल का समय:....

सोमवारः- प्रातः काल 7 बजकर 30 मिनट से 9 बजे तक।


मंगलवारः- दोपहर 3 बजे से 4बजकर 30 मिनट तक। 

बुधवारः- 12 बजे से लेकर 1 बजकर 30 मिनट तक। 

वृहस्पतिवार:- 1 बजकर 30 मिनट से 3 बजे तक। 

शुक्रवारः- 10 बजकर 30 मिनट से 12 बजे तक। 

शनिवारः- 9 बजे से 10 बजकर 30 मिनट तक।

रविवारः- शाम 4 बजकर 30 मिनट से 6 बजे तक।



यह उपरोक्त समय यदि सूर्योदय प्रातः 6  बजे है तो यही काल का समय रहेगा ..यदि सूर्योदय का समय 6  बजे से  कम या ज्यादा होता है तो राहू काल के समय में भी अंतर आ जाएगा ..

उचित यही रहेगा कि आप अपने नगर के राहुकाल का समय किसी विद्वान ज्योतिषी से संपर्क कर प्राप्त कर सकते है.

इन्टरनेट से भी बहुत  सी वेबसाइट है जो कि आपको आपके नगर का सही राहुकाल का समय बता देंगी...


शुभमस्तु !!!

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

कृपया अपने प्रश्न / comments नीचे दिए गए लिंक को क्लिक कर के लिखें

LinkWithin

Related Posts with Thumbnails

लिखिए अपनी भाषा में