जय श्री कृष्णः.श्री कृष्ण शरणं मम.श्री कृष्ण शरणं मम.चिन्ता सन्तान हन्तारो यत्पादांबुज रेणवः। स्वीयानां तान्निजार्यान प्रणमामि मुहुर्मुहुः ॥ यदनुग्रहतो जन्तुः सर्व दुःखतिगो भवेत । तमहं सर्वदा वंदे श्री मद वल्लभ नन्दनम॥ जय श्री कृष्णः

बुधवार, 29 मई 2013

आपकी जन्म कुण्डली में धन योग जानें .......





मनुष्य के जीवन में सभी समस्याओं का अधिकतर धन से सम्बन्ध होता है, अनेक प्रकार की समस्याएं होती है जैसे विद्या, पुत्र, पत्नी, गृह क्लेश तथा अनेक समस्याओं से मनुष्य संघर्ष करता है.

लेकिन धन भी एक बहुत बड़ी समस्या है जीवन के लगभग सभी कार्य इसी धन से ही संभव हो पाते है इस धन को प्राप्त करने के लिए मनुष्य तरह तरह के उपाय व्रत, पूजा पाठ अनुष्ठान आदि करने से पीछे नही हटता है.

आज आप अपनी जन्मकुंडली के अनुसार जाने कि किस योग से आपको धन प्राप्त हो सकता है या नही तो ऐसे योग जन्म कुण्डली में भी होते है

अपनी जन्म कुण्डली के लग्न अनुसार आप स्वयं देखे कि आपकी कुण्डली में धन का कौन सा योग बन रहा है
ज्योतिष शास्त्र में बहुत से योग मिलते है लेकिन यहां कुछ योगो का वर्णन कर रहा हूँ


* मेष लग्न की कुंडली में लग्न में सूर्य, मंगल, गुरु व शुक्र यह चारों यदि नवम भाव में हों तथा शनि सप्तम भाव में हो तो धन योग बनते हैं।
*
मेष लग्न की कुंडली में लग्न में सूर्य व चतुर्थ भाव में चंद्र स्थित हो।

*
वृष लग्न की कुंडली में बुध-गुरु एकसाथ बैठे हों तथा मंगल की उन पर दृष्टि हो।

*
मिथुन लग्न की कुंडली में चंद्र-मंगल-शुक्र तीनों एकसाथ द्वितीय भाव में हों।
*
मिथुन लग्न की कुंडली में शनि नवम भाव में तथा चंद्र व मंगल ग्यारहवें भाव में हों।

*
कर्क लग्न की कुंडली में चंद्र-मंगल-गुरु दूसरे भाव में तथा शुक्र-सूर्य पंचम भाव में हों।
*
कर्क लग्न की कुंडली में लग्न में चंद्र तथा सप्तम भाव में मंगल हों।
*
कर्क लग्न की कुंडली में लग्न में चंद्र तथा चतुर्थ में शनि हो।

* सिंह लग्न की कुंडली में सूर्य, मंगल तथा बुध- ये तीनों कहीं भी एकसाथ बैठे हों।
 
* सिंह लग्न की कुंडली में सूर्य, बुध तथा गुरु- ये तीनों कहीं भी एकसाथ बैठे हों।

*
कन्या लग्न कुंडली में शुक्र व केतु दोनों धनभाव में हों।

*
तुला लग्न कुंडली में चतुर्थ भाव में शनि हो।
*
तुला लग्न कुंडली में गुरु अष्टम भाव में हो।

*
वृश्चिक लग्न कुंडली में बुध व गुरु कहीं भी एकसाथ बैठे हों।
*
वृश्चिक लग्न कुंडली में बुध व गुरु की परस्पर सप्तम दृष्टि हो।

*
धनु लग्न वाली कुंडली में दशम भाव में शुक्र हो।

*
मकर लग्न कुंडली में मंगल तथा सप्तम भाव में चंद्र हो। 

* कुंभ लग्न कुंडली में गुरु किसी भी शुभ भाव में बलवान होकर बैठा हो।
*
कुंभ लग्न कुंडली में दशम भाव में शनि हो।

*
मीन लग्न कुंडली में लाभ भाव में मंगल हो।
*
मीन लग्न कुंडली में छठे भाव में गुरु, आठवें में शुक्र, नवम में शनि तथा ग्यारहवें भाव में चंद्र-मंगल हों।

इस प्राकार आप कुंडली के अनुसार योग को जान सकते है जीवन में सभी सुख प्राप्त हो तो शास्त्र अनुसार यह भी उपाय कर लाभ उठा सकते हो जो कि आपके जीवन की समस्त बाधाओं को दूर करने में सक्षम है.वार के अनुसार यदि आप कार्य करते है तो आपको शीघ्र सफलता प्राप्त होगी 

1. सोमवार : सोमवार को निवेश करना अच्छा माना गया है। यदि आप सोना, चांदी या शेयर में निवेश करने का सोच रहे हैं तो सोमवार को चुने।

2. 
मंगलवार : मंगलवार सेक्स के लिए खराब है। इस दिन सेक्स करने से बचना चाहिए। मंगलवार को बहुत से धर्मों में ब्रह्मचर्य का दिन भी माना जाता है। इस दिन आप अच्छे से सेक्स भी नहीं कर पाएंगे। यह दिन शक्ति एकत्रित करने का दिन है।

3. बुधवार : सर्वेक्षण से पता चला कि सोमवार और शनिवार जहां ऑफिस में कर्म कार्य होता है। वहीं मंगलवार को ज्यादा, लेकिन ऑफिस में बुधवार को सबसे श्रेष्ठ दिन घोषित किया गया है।

3. 
गुरुवार : यदि आप किसी बुरी लत के शिकार है - जैसे सिगरेट, तंबाखू, शराब आदि तो उसे छोड़ने के लिए आप गुरुवार को चुने, क्योंकि गुरुवार को छोड़ते वक्त आपमें संकल्प की अधिकता होती है और यह पवित्र दिन भी है। तो गुरुवार को आदत छोड़ने का दिन माना गया है।

4. 
शुक्रवार : शुक्रवार सेक्स के लिहाज से अच्छा दिन है, लेकिन सर्वे से पता चला है कि शुक्रवार नौकरी से निकाले जाने का दिन भी। इसलिए अच्छा यह भी है कि आप इस दिन खट्टा न खाएं तो आपके साथ अच्‍छा ही होगा।

5. 
शनिवार : शनिवार को क्षमा मांगने का दिन भी माना जाता है, लेकिन सर्वे से यह पता चला कि बच्चों को जन्म देने के लिए शनिवार बेहतर है। शनिवार को शराब पीना सबसे घातक माना गया है। इससे आपके अच्छे भले जीवन में तूफान आ सकता है।

6. 
रविवार : रविवार अच्छे-अच्छे पकवान खाने के लिए उत्तम दिन है, लेकिन सर्वे कहता है कि खाना बनाने के लिए रविवार सबसे खराब दिन है। इसका मतलब यह कि महिलाएं चाहती है कि इस दिन हमें भी किचन से छुट्टी मिलें।

आपका जीवन सुखी हो यही मेरी कामना है 



शुभमस्तु !!!








26 टिप्‍पणियां:

  1. Pandit ji mera naam arjun yadav hai or date of birth 02/10/1989 hai kya aap mujhe meri rashi or mujhe dharan karne k liye koi ratna bataayenge dhanywaad

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. कृपया आप अपना जन्म समय और जन्म स्थान का पूरा विवरण दे तभी बता पायेंगे

      हटाएं
  2. first of all thankyou anil sharma ji for this very good work for people.

    my name is deepak sharma.

    i have some questions:

    1.i am feelings some upari cheeje(black magic effects). i want to ask is this time effect only?

    2.my health is very down. i am very depressed person. when will i improve?

    3.do i have abroad yoga and if so when would i get chance for abroad?

    details
    date of birth 19/11/1983
    time of birth 09:55am
    place of birth ajmer,rajasthan

    please take my queries

    thankyou


    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. आपकी जन्म कुण्डली के अनुसार चार ग्रह सूर्य, बुध, केतु तथा गुरु बाहरवें भाव में स्थित है तथा आठवें भाव के स्वामी चंद्रमा की महादशा चल रही है जो कि पीडाकरक है इसी वजह से कार्य बाधा व स्वास्थ्य हानि आदि लक्षण तथा मानसिक परेशानी बनी हुयी है...श्री हनुमान चालीसा के 11 - 11 पाठ मंगलवार तथा शनिवार शाम के समय करें तथा प्रतिदिन एक एक पाठ अनिवार्य रूप से करें तो लाभ होगा मौर के पंख का गुलदस्ता अपने बैड रूम में रखें तथा प्रतिदिन भगवान् शिव लिंग पर जल में कच्चा दूध मिलाकर अर्पण करें तो अवश्य ही कुछ दिनों में लाभ प्राप्त हो जाएगा...

      हटाएं
  3. first of all thankyou anil sharma ji for this very good work for people.

    my name is deepak sharma.

    i have some questions:

    1.i am feelings some upari cheeje(black magic effects). i want to ask is this time effect only?

    2.my health is very down. i am very depressed person. when will i improve?

    3.do i have abroad yoga and if so when would i get chance for abroad?

    details
    date of birth 19/11/1983
    time of birth 09:55am
    place of birth ajmer,rajasthan

    please take my queries

    thankyou


    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. आपकी जन्म कुण्डली के अनुसार चार ग्रह सूर्य, बुध, केतु तथा गुरु बाहरवें भाव में स्थित है तथा आठवें भाव के स्वामी चंद्रमा की महादशा चल रही है जो कि पीडाकरक है इसी वजह से कार्य बाधा व स्वास्थ्य हानि आदि लक्षण तथा मानसिक परेशानी बनी हुयी है...श्री हनुमान चालीसा के 11 - 11 पाठ मंगलवार तथा शनिवार शाम के समय करें तथा प्रतिदिन एक एक पाठ अनिवार्य रूप से करें तो लाभ होगा मौर के पंख का गुलदस्ता अपने बैड रूम में रखें तथा प्रतिदिन भगवान् शिव लिंग पर जल में कच्चा दूध मिलाकर अर्पण करें तो अवश्य ही कुछ दिनों में लाभ प्राप्त हो जाएगा...

      हटाएं
  4. mera naam deepak sharma hai

    meri kuch samasye hai jaise

    1. mere peth me khichav hota hai main jab bhi apne baare main acha sochta hoon koi cheej much rokti hai. main bahut pareshan hoon. kya yaha upari cheeje hai ya kewal samay ka prabhav?

    2.kya mera videsh jaane ka yog hai yadi hai toh kab apply karu aur kya videsh jana labhdayi hoga?

    details
    date of birth 19/11/1983
    time of birth 09:55am
    place of birth ajmer,rajasthan




    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. आपकी जन्म कुण्डली के अनुसार चार ग्रह सूर्य, बुध, केतु तथा गुरु बाहरवें भाव में स्थित है तथा आठवें भाव के स्वामी चंद्रमा की महादशा चल रही है जो कि पीडाकरक है इसी वजह से कार्य बाधा व स्वास्थ्य हानि आदि लक्षण तथा मानसिक परेशानी बनी हुयी है...श्री हनुमान चालीसा के 11 - 11 पाठ मंगलवार तथा शनिवार शाम के समय करें तथा प्रतिदिन एक एक पाठ अनिवार्य रूप से करें तो लाभ होगा मौर के पंख का गुलदस्ता अपने बैड रूम में रखें तथा प्रतिदिन भगवान् शिव लिंग पर जल में कच्चा दूध मिलाकर अर्पण करें तो अवश्य ही कुछ दिनों में लाभ प्राप्त हो जाएगा...


      उपाय से समस्त बाधाएं दूर होने से ही उन्नति आरम्भ होगी...

      हटाएं
  5. mera naam deepak sharma hai

    meri kuch samasye hai jaise

    1. mere peth me khichav hota hai main jab bhi apne baare main acha sochta hoon koi cheej much rokti hai. main bahut pareshan hoon. kya yaha upari cheeje hai ya kewal samay ka prabhav?

    2.kya mera videsh jaane ka yog hai yadi hai toh kab apply karu aur kya videsh jana labhdayi hoga?

    details
    date of birth 19/11/1983
    time of birth 09:55am
    place of birth ajmer,rajasthan




    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. आपकी जन्म कुण्डली के अनुसार चार ग्रह सूर्य, बुध, केतु तथा गुरु बाहरवें भाव में स्थित है तथा आठवें भाव के स्वामी चंद्रमा की महादशा चल रही है जो कि पीडाकरक है इसी वजह से कार्य बाधा व स्वास्थ्य हानि आदि लक्षण तथा मानसिक परेशानी बनी हुयी है...श्री हनुमान चालीसा के 11 - 11 पाठ मंगलवार तथा शनिवार शाम के समय करें तथा प्रतिदिन एक एक पाठ अनिवार्य रूप से करें तो लाभ होगा मौर के पंख का गुलदस्ता अपने बैड रूम में रखें तथा प्रतिदिन भगवान् शिव लिंग पर जल में कच्चा दूध मिलाकर अर्पण करें तो अवश्य ही कुछ दिनों में लाभ प्राप्त हो जाएगा...


      उपाय से समस्त बाधाएं दूर होने से ही उन्नति आरम्भ होगी...

      हटाएं
  6. Te of birth 7.4.1979"" tome of birth 5.20 pm hai.. pob aamritsssar hai.. kya meri kundli mai dhan prapti ka yog hai.. kya. Mai foreign jja. Sakti hu.or settel ho sakti hu. Mai kaun sa ratan pahnu or kb pahnu.kitne rati ka.kaun si dhatu mai
    .kis samay. Or kis din pahnu. Or kaun se hzath ki finger mai pahnu. Or use abhimantrit kaise karu

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. आपकी जन्म कुंडली में धन का योग है वह योग 2014 से आरम्भ होगा तभी कार्यों में सफलता प्राप्त हो सकती है

      हटाएं
  7. Pandit ji pranam,mera nam rahul sahu hai meri janm tarikh hai 11 dec 1983,time 1.15pm place-sagar madhya pradesh .main ek private company me engg hu.meri job thik nahi chal rahi hai.maine dusri cimpany me try kiya tha per bahut vyabdhan aa gaye aur meri job nahi lag payi.pls aap kuch aacha upay bataye taki meri aarthik aur mansik stithi thik hora.

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. आपकी कुंडली अनुसार जल्दी ही दूसरी जॉब का योग बन रहा है इसके लिए प्रतिदिन भगवान् सूर्य को जल दें तथा शाम के समय कुत्ते को रोटी खिलाएं इससे लाभ होगा

      हटाएं
  8. Pandit ji pranam,mera nam rahul sahu hai meri janm tarikh hai 11 dec 1983,time 1.15pm place-sagar madhya pradesh .main ek private company me engg hu.meri job thik nahi chal rahi hai.maine dusri cimpany me try kiya tha per bahut vyabdhan aa gaye aur meri job nahi lag payi.pls aap kuch aacha upay bataye taki meri aarthik aur mansik stithi thik hora.

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. आपकी कुंडली अनुसार जल्दी ही दूसरी जॉब का योग बन रहा है इसके लिए प्रतिदिन भगवान् सूर्य को जल दें तथा शाम के समय कुत्ते को रोटी खिलाएं इससे लाभ होगा

      हटाएं
  9. Pandit ji pranam,mera nam rahul sahu hai meri janm tarikh hai 11 dec 1983,time 1.15pm place-sagar madhya pradesh .main ek private company me engg hu.meri job thik nahi chal rahi hai.maine dusri cimpany me try kiya tha per bahut vyabdhan aa gaye aur meri job nahi lag payi.pls aap kuch aacha upay bataye taki meri aarthik aur mansik stithi thik hora.

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. आपकी कुंडली अनुसार जल्दी ही दूसरी जॉब का योग बन रहा है इसके लिए प्रतिदिन भगवान् सूर्य को जल दें तथा शाम के समय कुत्ते को रोटी खिलाएं इससे लाभ होगा

      हटाएं
  10. namasate pandit ji,
    mera naam Vijay patil hai date of birth 25/11/1985 birt time - 07:15 am place Kolhapur(Maharashtra) , please mujhe bataye mere jivan me business ka yog hai ya nahi aur mujhe kounasa business karana chahiye kya mujhe business fayademand hai ?

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. आपकी जन्म कुंडली के अनुसार आप व्यवसाय नही कर सकते है आप जॉब ही करें इससे लाभ होगा बिजनेस में पैसा डूब जाएगा अर्थात हानि होगी

      हटाएं
  11. Namaskar pundit ji mera naam sumit khandelwal hai meri janam tithi 11 Oct. 1979 hai , samay sham 5:15 ka hai tatha janam sthan Delhi hai . Kripya kar ke bataye ki kaun as rattan mere liye subh hoga. Aur mujhe business mein Jo ghata ho raha hai woh kab smapat hoga

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. आप जन्म कुंडली अनुसार मूंगा रत्न धारण कर सकते है तथा श्री हनुमान जी की पूजा आपके लिए भाग्य वर्द्धक रहेगी

      हटाएं
  12. I m Ankit jain

    From -jabalpur ( MP )

    DOB - 16/11/1988

    Birth tym - 1:10 PM

    I know about my business success
    And which year my dreams come true

    And also my merriage

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. जून 2015 से आपका भाग्य उदय हो रहा है अतः आपके सभी कार्य जून से सफल होने आरम्भ होंगे और सपने तो आज तक किसी के पूरे नही हुए इसलिए जो भगवान प्रदान करे उसे स्वीकार करें ..भाग्य आपका बहुत अच्छा है

      हटाएं
  13. I m Ranjan kumar

    DOB - 10 Nov 1993

    Birth time - 08:31 AM

    Birth place - Dibrugarh , Assam

    Pandit ji, kripya bataye ki
    (1) mujhe Job ya business karna chahiye ?
    (2)Kiya mera koi rajyog hai?

    Pranaam Pandit ji .

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. आपकी जन्म कुंडली अनुसार आपको जॉब से लाभ होगा बिजनेस में शुरू में हो सकता है कि लाभ हो जाए लेकिन कुछ समय बाद धन की हानि हो जायेगी अतः जॉब ही करें

      राज योग का कोई अर्थ आपकी कुंडली में नही है

      हटाएं

कृपया अपने प्रश्न / comments नीचे दिए गए लिंक को क्लिक कर के लिखें

LinkWithin

Related Posts with Thumbnails

लिखिए अपनी भाषा में