जय श्री कृष्णः.श्री कृष्ण शरणं मम.श्री कृष्ण शरणं मम.चिन्ता सन्तान हन्तारो यत्पादांबुज रेणवः। स्वीयानां तान्निजार्यान प्रणमामि मुहुर्मुहुः ॥ यदनुग्रहतो जन्तुः सर्व दुःखतिगो भवेत । तमहं सर्वदा वंदे श्री मद वल्लभ नन्दनम॥ जय श्री कृष्णः

शनिवार, 6 जुलाई 2013

छिपकली द्वारा शकुन-अपशकुन विचार....




प्राचीन युगों युगों से हमारी सभ्यता में शकुन और अपशकुन चले आ रहे है यह उस समय से है जब विज्ञान भी नही था अर्थात विज्ञान का प्रचार प्रसार बहुत न्यून था, तभी से मानव के ऊपर इन शकुन व अपशकुन का प्रभाव देखा गया है जो कि शत प्रतिशत सही होता है इसके बारें में समाज में बहुत सी बातें कही गयी है कुछ इसके पक्ष में तथा कुछ बाते इसके विरोध में लेकिन यह शकुन - अपशकुन अपना कार्य करते रहे जो इसका विरोध करते है वही कुछ समय बाद इसे मानने लग गये है..

शकुन - अपशकुन का प्रयोग ज्योतिष शास्त्र में भी बहुत होता है तथा प्रत्येक धर्म में भी इन शकुन - अपशकुन की मान्यता को स्वीकार किया हुआ है, जिसमें पक्षी द्वाराशकुन - अपशकुन, पशु, मनुष्य, यहाँ तक कि मौसम के विषय में भी शकुन - अपशकुन का बहुत विचार किया जाता है..


प्राचीन काल से काफी लोग इन शकुन अपशकुनो 

को अंधविश्वास भी मानते हैं.किन्तु विद्वानों ने यह 

निश्चित किया कि इनके द्वारा भविष्य की शुभ या 

अशुभ घटनाओं को जाना जा सकता है..

सामान्यत: किसी पुरुष के सीधे हाथ की ओर यदि छिपकली गिरती है तो इसे शुभ माना जाता है जबकि बाएं हाथ की ओर छिपकली गिरने पर अशुभ माना जाता है। स्त्रियों के संबंध में यह बात विपरित रहती है। उनके बाएं हाथ की ओर छिपकली पर गिरने पर शुभ फल प्राप्त होते हैं जबकि सीधे हाथ की ओर गिरने पर अशुभ फल झेलने पड़ सकते हैं

जब आप भोजन कर हों और उस समय आपको छिपकली दिखाई दे तो यह शुभ होता है। 
यदि कोई परिवार किसी नए घर में रहने जाते हैं और उसी समय मरी हुई छिपकली दिखाई दे तो यह अशुभ होता है। इसका संकेत यह है कि उस घर में रहने वाले लोगों को बीमारियों का सामना करना पड़ता है।


यदि छिपकली किसी व्यक्ति के सीधे हाथ की ओर से चढ़कर बाएं हाथ की तरफ उतरती है तो इसका संकेत यह है कि निकट भविष्य में व्यक्ति को पदोन्नति और धन लाभ मिलने की संभावनाएं रहती हैं।
ज्योतिष के अनुसार किसी स्त्री के बाएं हाथ की ओर छिपकली गिरे तो सौभाग्य में वृद्धि होती है जबकि दाहिने हाथ की ओर  गिरे तो धन की हानि होने की संभावनाएं रहती हैं।

यदि किसी व्यक्ति को घर की दीवार पर छिपकलियां प्रेम-प्रसंग में लिप्त दिखाई दें तो समझ लेना चाहिए कि किसी पुराने मित्र से जल्दी ही मुलाकात हो सकती है।
जब छिपकलियां लड़ती हुई दिखे तो उस दिन सावधान रहना चाहिए अन्यथा किसी से झगड़ा हो सकता है।


यदि किसी व्यक्ति के पेट पर छिपकली गिरती है तो कई प्रकार की परेशानियों का सामना करना पड़ता है। यदि छिपकली किसी व्यक्ति की छाती पर गिरती है तो अच्छा भोजन प्राप्त होता है।
जब किसी व्यक्ति के घुटने पर छिपकली गिरती है तो इसका मतलब यही है कि निकट भविष्य में सुख की प्राप्ति होगी।



यदि कोई परिवार किसी नए घर में रहने जाते हैं और उसी समय मरी हुई छिपकली दिखाई दे तो यह अशुभ होता है। इसका संकेत यह है कि उस घर में रहने वाले लोगों को बीमारियों का सामना करना पड़ता है।


यदि छिपकली किसी व्यक्ति के सीधे हाथ की ओर से चढ़कर बाएं हाथ की तरफ उतरती है तो इसका संकेत यह है कि निकट भविष्य में व्यक्ति को पदोन्नति और धन लाभ मिलने की संभावनाएं रहती हैं।
ज्योतिष के अनुसार किसी स्त्री के बाएं हाथ की ओर छिपकली गिरे तो सौभाग्य में वृद्धि होती है जबकि दाहिने हाथ की ओर  गिरे तो धन की हानि होने की संभावनाएं रहती हैं।

यदि किसी व्यक्ति को घर की दीवार पर छिपकलियां प्रेम-प्रसंग में लिप्त दिखाई दें तो समझ लेना चाहिए कि किसी पुराने मित्र से जल्दी ही मुलाकात हो सकती है।
जब छिपकलियां लड़ती हुई दिखे तो उस दिन सावधान रहना चाहिए अन्यथा किसी से झगड़ा हो सकता है।


यदि किसी व्यक्ति के पेट पर छिपकली गिरती है तो कई प्रकार की परेशानियों का सामना करना पड़ता है। यदि छिपकली किसी व्यक्ति की छाती पर गिरती है तो अच्छा भोजन प्राप्त होता है।
जब किसी व्यक्ति के घुटने पर छिपकली गिरती है तो इसका मतलब यही है कि निकट भविष्य में सुख की प्राप्ति होगी।

यदि किसी व्यक्ति के सीधे हाथ की ओर वाले गाल पर छिपकली गिर जाती है तो ऐसे इंसान को 

भोग-विलास की प्राप्ति होती है। जबकि बाएं गाल पर छिपकली गिरे तो स्वास्थ्य बिगडऩे की 

संभावनाएं रहती हैं। अत: खानपान का विशेष ध्यान रखना चाहिए।

कहीं आते-जाते समय किसी व्यक्ति के सिर पर या सीधे हाथ पर छिपकली गिर जाती है तो निकट 

भविष्य में मान-सम्मान मिलता है। इसीप्रकार यदि छिपकली बाएं हाथ पर गिरती है तो धन हानि 

होने की संभावनाएं रहती हैं और किसी प्रकार के आरोप का भी सामना करना पड़ सकता है।


शुभमस्तु !!

10 टिप्‍पणियां:

  1. Dear Sir,

    Mera chota bhai (Manoj Sharma) kisi Aurat (Sapna, already married) ke chakkar me pad kar ghar chod kar chala gaya hai. Kuch log kehte hai ki mere bhai par us Aurat ne koi jadoo, tona ya vashikaran karwa diya hai. Me aapko apne bhai ki details bhej raha hu, kripiya koi samadhan bataye. Appki bahut krapa hogi:

    Name: Manoj Sharma
    Date of Birth: 25-Sep-1992
    Birth Time: 10:00 AM
    Birth Place: Mandalgarh (Rajasthan)
    Residence Address: Mathura

    Woman Name: Sapna

    Sir, please do the needfull.

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. आपके भाई का समय सितम्बर 2011 से ठीक नही चल रहा है अभी अप्रैल तक अशुभ समय है वह जल्दी आ जाएगा चिंता मत करो

      हटाएं
  2. उत्तर
    1. ऊपर प्रश्न का उत्तर दे दिया गया है

      हटाएं
  3. पंडितजी,
    मेरा प्रश्न था की क्या मेरे भाई के द्वारा घरवालो पर भी कोई संकट आ सकता है क्या.

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. जी मानसिक परेशानी तथा आर्थिक कष्ट आने की संभावना है

      हटाएं
  4. Guru ji mera name - sandip jogdand hi meri birth date - 20 - 04 - 1990 h time - 12 : 30 pm ko hua h beed maharashtra mera kam thik nahi chal raha h kuch salah dijiye

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. आपका जन्म काल सर्प योग में हुआ है इसी कारण से जीवन में कठिनाइयां आ रही है इसलिए काल सरो योग की शांति करवाएं तथा पुखराज +मोती धारण करें तभी लाभ होगा

      हटाएं
  5. गुरु जी मेरा नाम विक्रांत वार्ष्णेय है d.o.b.20/07/1986
    time 10.15pm
    Guru ji meri shadi kab tak hogi

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. आपकी जन्म कुंडली अनुसार नवम्बर 2016 से योग आरम्भ होग्फा

      हटाएं

कृपया अपने प्रश्न / comments नीचे दिए गए लिंक को क्लिक कर के लिखें

LinkWithin

Related Posts with Thumbnails

लिखिए अपनी भाषा में